घूस का पॉल्यूशन: भरतपुर के प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी के घर मिली लाखों की नकदी और करोड़ों के भूमि दस्तावेज

जयपुर 

भरतपुर में पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड अधिकारी हंसराम कसाना (Hansram Kasana) को लेकर बड़ी खबर आ रही है। ACB ने  इस अधिकारी के जयपुर स्थित ठिकानों पर सर्च ऑपरेशन चलाया है जिसमें लाखों की नकदी और करोड़ों की प्रॉपर्टी के दस्तावेज बरामद किए गए हैं बरामद नकदी करीब 40 लाख बताई गई है

आपको बता दें कि ACB की भरतपुर इकाई ने 29 जुलाई को भरतपुर के क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी हंसराम कसाना के दफ्तर से 1 लाख 60 हजार रुपए की नकदी बरामद कर गिरफ्तार किया था इस कार्रवाई के बाद अब ACB की टीम कसाना के जयपुर स्थित विला नं० 36, साउथ एक्स, टोंक रोड, जयपुर में तलाशी के लिए पहुंची, जहां करीब 40 लाख रुपए की नकदी और करोड़ों की सम्पत्तियों के दस्तावेज मिले हैं इसके अलावा 6 करोड़ से ज्यादा लेनदेन के दस्तावेज और कई प्लॉट, विला और अन्य सम्पत्तियों के दस्तावेज मिले हैं, जिनकी कीमत करोड़ों रुपए बताई जा रही है। 

ब्यूरो के महानिदेशक बीएल सोनी ने बताया कि ब्यूरो की भरतपुर इकाई को गोपनीय सूचना प्राप्त हुई कि भरतपुर के क्षेत्रीय प्रदूषण नियन्त्रण अधिकारी द्वारा रिश्वत के रुप में भारी धनराशि ली जा रही है और उनके पास आय से अधिक सम्पत्ति है। सोनी ने बताया कि यह भी जानकारी मिली थी कि 29 जुलाई को भारी धनराशि के लेनदेन होने की संभावना है, जिस पर ब्यूरो की टीम ने उसी दिन कसाना को एक लाख 60 हजार रुपए नकदी के साथ पकड़ा था।

घर से बरामद नकदी

उस मामले की जांच के लिए जब ब्यूरो की टीम अधिकारी के जयपुर स्थित निवास पर पहुंची तो वहां उन्हें तलाशी में करीब 40 लाख रुपए  की नकदी तथा 6 करोड़ से अधिक लेनदेन के दस्तावेज के अलावा कई भूखंड, विला व अन्य परिसम्पत्तियों के दस्तावेज मिले हैं। उन्होंने बताया कि इन संपत्तियों की कीमत करोड़ों की है।

सर्च करते हुए ACB की टीम

उन्होंने कहा कि आरोपी के अब तक ज्ञात सभी ठिकानों पर तलाशी जारी है तथा प्राप्त दस्तावेजों और चल-अचल सम्पत्तियों की कीमतों का आकलन किया जा रहा है।